Tuesday, 26 March 2013

अब की होली ..... मैं जोगन तेरी होली !!




















तेरे नाम की चुन्नर मैंने ओढ़ी है
लेकर दिल में प्यार तेरा
सारी दुनिया मैंने छोड़ी है !!
हूँ तेरी सांसों के  हिसाब की मुनीम
ना कसम मैंने ये कभी तोड़ी है !
होली होली अब की  होली
बन अपने जोगी की जोगन
तुझ संग प्रीत की डोरी जोड़ी है !

जब से तेरे करीब आई,
तब से है मैंने ये जाना !
तेरे एहसास में दिल मेरा
हर पल गाए खुशियों का तराना !!
मेरे जोगी तेरा क्या कहना !
पाकर रूहानी प्यार तेरा
 अब ना है कुछ पाना !
होली होली अब की होली
बन अपने जोगी की जोगन
सबसे अनोखा रिश्ता है निभाना !!

बेहद प्यार है तुमसे कैसे तुम्हें बताऊँ !
तेरे करीब आई तो हो गई समर्पण
अब ना है कोई शिकायत ,ना कोई शिकवा
ज़िन्दगी हुई कितनी हसीन,ना मैं जता पाऊँ !!
होली होली अब की होली
बन अपने जोगी की जोगन
हर पल अपना तेरे लिए जी जाऊँ !


जो तू चमके, तो मैं और भी चमकूँ !
ऐसी तेरी प्रेम दीवानी हो गई
जोगन मस्तानी, सुध बुध  खो गई !!
इस रूहानी इश्क ने, यूँ भिगोई मेरी चोली
होली होलीअब  की  होली
करना  है  तुझ  को  हो  ली !!
होली  होली  बन  होली (holy)
अब की होली
मैं जोगन  तेरी  होली !!

10 comments:

  1. अब की होली .जोगन तू उनकी होली
    मनाना अब उम्र भर संग तू उनके होली :-))

    होली की बहुत-बहुत मुबारक ..होली की कविता में खेली आपने सुंदर
    अपने मन की होली .....

    ReplyDelete
  2. इस रूहानी इश्क ने, यूँ भिगोई मेरी चोली ....होली मुबारक .....

    ReplyDelete
  3. जो तू चमके, तो मैं और भी चमकूँ !
    ऐसी तेरी प्रेम दीवानी हो गई
    जोगन मस्तानी, सुध बुध खो गई !!

    प्रेम के रब्ग में डूब के इश्वर हो जाना ही असल होली है ... कान्हा में बदल जाने का मान ही प्रेम है ...
    होली की बह्धाई ओर शुभकामनायें ...

    ReplyDelete
  4. होली की हार्दिक शुभकामनायें...

    ReplyDelete
  5. बहुत सुन्दर भावपूर्ण रचना..होली की हार्दिक शुभकामनाएँ!

    ReplyDelete
  6. होली होली अब की होली
    बन अपने जोगी की जोगन
    हर पल अपना तेरे लिए जी जाऊँ !

    बहुत सुन्दर अभिव्यक्ति....प्यारा समर्पण..

    सस्नेह
    अनु

    ReplyDelete
  7. बहुत खूबसूरत अभिव्यक्ति । आपको और आपके पूरे परिवार को रंगों के त्योहार होली की शुभ कामनाएँ

    ReplyDelete
  8. जो तू चमके, तो मैं और भी चमकूँ !
    ऐसी तेरी प्रेम दीवानी हो गई
    जोगन मस्तानी, सुध बुध खो गई !!
    इस रूहानी इश्क ने, यूँ भिगोई मेरी चोली
    होली होली, अब की होली
    करना है तुझ को हो ली !!

    bahut khubsurat...

    ReplyDelete
  9. प्रेम के रंग में रंगी जोगन इस होली अपने जोगी की हो-ली.......बेहद खुबसूरत अंदाज़........गहन भाव......बहुत बहुत पसंद आई पोस्ट।

    ReplyDelete
  10. बहुत सुन्दर अभिव्यक्ति....

    ReplyDelete